ऊधम सिंह नगर

‘अवैध’ पार्क को बना दिया ढाबा! प्रशासन मौन, कायदे कानून ताक पर

सौरभ गंगवार

रूद्रपुर। शहरके गांधी पार्क के सामने स्थित अम्बेडकर पार्क बदहाली पर आंसू बहा रहा है। प्रशासन की अनदेखी के चलते पार्क में खुलेआम अवैध रूप से ढाबा संचालित कर लाखों की कमाई की जा रही है। ढाबा स्वामी जहां सरकार को राजस्व की हानि पहुंचा रहा है वहीं जन स्वास्थ्य से भी खिलवाड़ कर रहा है।

बता दें गांधी पार्क के सामने स्थित अम्बेडकर पार्क अतिक्रमणकारियो के कब्जे हैं। पूरे पार्क में प्रहलाद सिंह नाम के शख्स ने ढाबा संचालित कर रहा है। कहने को इस ढाबा संचालक की ठेली पार्क के बाहर लगी है लेकिन पार्क में ग्राहकों के लिए बकायदा कुर्सी और टेबल लगाकर बैठने की व्यवस्था की गयी है। इस ढाबे पर रोजाना पांच सौ से अधिक लोग सुबह से शाम तक खाना खाने आते हैं इस हिसाब से ढाबा स्वामी रोजाना 30 से 50 हजार की कमाई कर रहा है। बदले में न तो सरकार को टैक्स दिया जाता है और न ही नियमों की परवाह की जा रही है। सरकार जहां रेस्टोरेंट स्वामियों पर जीएसटी सहित अन्य टैक्स लगा रही है वहीं अतिक्रमण करके पार्क में ढाबा चला रहे इस व्यापारी पर किसी तरह का टैक्स नहीं लगाया जाता है। सम्बंधित विभाग इस ओर आंखे मूंदे हैं।

यह ढाबा लोगों के लिए परेशानी का सबब बना हुआ है। यहां खाना खाने के लिए आने वाले लोग सड़क पर अपने वाहन खड़े कर देते हैं जिसके चलते सड़क पर अकसर जाम की स्थिति बनी रहती है। पार्क में ढाबा चलाकर कमाई तो की जा रही है लेकिन सफाई के नाम पर यहां बुरा हाल है। भीषण गंदगी के कारण यहां मच्छर मक्खियों का प्रकोप बना हुआ है जिससे बिमारियां फैलने का अंदेशा बना हुआ है। ढाबा संचालक की मनमानी का आलम यह है कि वहां बेची जा रही खाद्य सामग्री में गुणवत्ता का कोई खयाल नहीं रखा जा रहा। नगर निगम के स्वास्थ्य अधिकारी भी इस पर मौन है। प्रतिबंध के बाजवूद ढाबा स्वामी द्वारा खुलेआम पॉलीथीन में खाद्य सामग्री पैक करके भी दी जा रही है।

error: Content is protected !!
Call Now Button