Thursday, April 25, 2024
Latest:
ऊधम सिंह नगर

रुद्रपुर में नई कारों में वेटिंग के नाम पर एसेसरीज व कोटिंग लेने का दबाव बनाने का आरोप, एफआईआर दर्ज कराने को न्यायालय में दिया प्रार्थना पत्र।

रुद्रपुर में आकांशा ऑटो मोबाइल रुद्रपुर द्वारा मारुति नेक्सा की नई कारें वेटिंग के नाम पर ब्लैक में बेचने, एसेसरीज व कोटिंग लेने का दबाव बनाने का आरोप।

सौरभ गंगवार 

रुद्रपुर। मारुति नेक्सा की नई कारें वेटिंग के नाम पर ब्लैक में बेचने का आरोप लगाते हुए पीड़ित द्वारा इसे अपने साथ धोखाधड़ी बताते हुए एफआईआर दर्ज करने की मांग को लेकर न्यायालय में प्रार्थना पत्र प्रस्तुत किया गया है। साथ ही इसे उपभोक्ता अधिकारों का हनन बताते हुए जिला उपभोक्ता आयोग में परिवाद दायर किया गया है।

जिला न्यायालय रुद्रपुर के अधिवक्ता सोमिल घीक द्वारा बताया गया कि उनके द्वारा नेक्सा आकांशा ऑटो मोबाइल रुद्रपुर प्राइवेट लिमिटेड से ग्रैंड विटारा कार नई खरीदने के लिए 12 अक्टूबर 2022 को बुकिंग कराई थी।

कार की डिलीवरी 7 दिसंबर 2022 तक देने का आश्वासन दिया गया था लेकिन समय पर कार नहीं दी गई इस दौरान बैंक से ऋण स्वीकृति कराने के बाद किश्त व ब्याज भी शुरू हो गई लेकिन कार की डिलीवरी आज तक नहीं दी गई है।

उन्होंने बताया कि अप्रैल 2023 तक कार की डिलीवरी नहीं मिलने पर आकांक्षा ऑटोमोबाइल के अधिकारी/ कर्मचारियों से बात करने पर कार की डिलीवरी देने के लिए 50 हजार रुपए की कार की एसेसरीज व 50 हजार रुपए कोटिंग चार्ज के रूप में यानी 01 लाख रुपए की अतिरिक्त मांग की जा रही है और एक्सेसरीज व कोटिंग के नाम पर उसके साथ धोखाधड़ी व उपभोक्ता अधिकारों का हनन किया जा रहा है।

जिस संबंध में एफआईआर दर्ज करने के लिए न्यायालय में धारा -156 (3) सीआरपीसी का प्रार्थना पत्र प्रस्तुत किया गया है। साथ ही जिला उपभोक्ता आयोग रुद्रपुर में भी परिवार दायर किया गया है।

सोमिल घीक ने आरोप लगाया कि नई कारों की वेटिंग के नाम पर एसेसरीज व कोटिंग के चार्ज वसूलकर स्थानीय क्षेत्र में करोड़ों की ब्लैक मेलिंग की संभावना है जिसकी जांच किए जाने से बड़ा घोटाला एवं उनका भ्रष्टाचार सामने आएगा।

रुद्रपुर में नई कार खरीदने की स्थिति यह है कि कोई व्यक्ति कार खरीदने जाता है तो उसे कई कई महीने की वेटिंग बताई जाती है और बुकिंग करने के बाद भी समय से गाड़ी की डिलीवरी नही दी जा रही।

वहीं जो व्यक्ति शोरूम प्रबंधको के अनुसार एसेसरीज और कोटिंग की मुंह मांगी धनराशि भुगतान कर रहा है उसे एक दो दिन में ही कार की डिलीवरी दे दी जाती है। उन्होंने मांग की कि इस मामले में एसआईटी गठित कर जांच कराई जाए तो बड़ा घोटाला सामने आएगा।

error: Content is protected !!
Call Now Button